Home / Sports / भारत ने जीते 5 गोल्ड समेत कुल 19 मेडल

भारत ने जीते 5 गोल्ड समेत कुल 19 मेडल

पदमा

Tokyo Paralympics 2020 में भारत ने इस वर्ष धमाकेदार खेल दिखाते हुए इतिहास रच दिया है। भारत ने Tokyo Paralympics 2020 इतिहास में इससे पहले 12 मेडल ही जीते थे।

मगर इस साल भारत में न केवल इस आंकड़े की बराबरी की बल्कि 19 मेडल जीतकर नया कीर्तिमान बनाया है। इतना ही नहीं इससे पहले Tokyo Paralympics 2020 में भारत ने सिर्फ चार ही गोल्ड मेडल जीते थे। जबकि इस साल भारत ने पांच गोल्ड मेडल अपने नाम किये है।

अंक तालिका में भारत का है 24 वा स्थान

टोक्यो पैरालंपिक में भारत का अंक तालिका में 24 स्थान है जो अब तक के इतिहास में भारत का सबसे सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। भारत ने इस बार एथलेटिक्स में आठ, निशानेबाजी में 5, बैडमिंटन में 4, टेबल टेनिस में एक और तीरंदाजी में 1 पदक जीता है। इन सभी पदको की बात करें तो भारत ने 5 गोल्ड, 8 रजत और 6 कांस्य पदक जीते हैं।

गोल्ड मेडल विजेता

इस पैरालंपिक खेलों में भारत ने जो पाँच गोल्ड मेडल हासिल किए हैं, उनमें से दो शूटिंग, दो बैडमिंटन और एक जैवलिन थ्रो में मिला है.
इस बार देश के लिए सबसे पहला गोल्ड मेडल अवनि लेखारा ने महिलाओं के 10 मीटर एयर राइफ़ल शूटिंग मुक़ाबले में हासिल किया था.

दूसरा गोल्ड मेडल सुमित एंटिल ने भाला फेंकने में प्राप्त किया.

इसके बाद मनीष नरवाल ने 50 मीटर पिस्टल की शूटिंग प्रतियोगिता में तीसरा, प्रमोद भगत ने बैडमिंटन में देश के लिए चौथा और कृष्णा नागर ने बैडमिंटन में ही देश को पाँचवा गोल्ड मेडल दिलाया.

सिल्वर मेडल

टोक्यो पैरालंपिक खेलों में भारत ने अब तक कुल आठ सिल्वर मेडल प्राप्त किए हैं. इनमें से एथेलेटिक्स में सबसे ज्यादा पाँच सिल्वर मेडल मिले हैं.

हालांकि भारत ने 2020 खेलों के पहले तक जितने भी पैरालंपिक मेडल हासिल किए थे, उनमें सिल्वर मेडल की कुल संख्या केवल चार ही थी. इनमें से दो 1984 के खेलों में मिले थे, जबकि एक-एक 2012 और 2016 के पैरालंपिक खेलों में प्राप्त हुए थे.

ब्रॉन्ज़ मेडल

2020 के पैरालंपिक खेलों में देश की झोली में अब तक 6 ब्रॉन्ज़ मेडल आए. इनमें से एथेलेटिक्स और शूटिंग में दो-दो, आर्चरी और बैडमिंटन में एक-एक ब्रॉन्ज़ हासिल हुए हैं.

Check Also

राहुल गांधी आ सकते हैं जयपुर

राहुल गांधी आ सकते हैं जयपुर

Share this on WhatsAppतानिया शर्मा राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा राजस्थान में 3 दिसंबर …

Gurukpo plus app
Gurukpo plus app