Breaking News
Home / Health / जानें बादाम से कैसे कम होती है माइग्रेन की समस्‍या

जानें बादाम से कैसे कम होती है माइग्रेन की समस्‍या

माइग्रेन या आधा सिरदर्द आजकल की अव्यवस्थित जिंदगी की देन है। जिसमें हम अपने खानपान पर नियमित ध्यान नहीं दे पाते हैं। सबसे बड़ा कारण है भागदौड़ की जिंदगी। जो तनाव से तो भरपूर है पर उससे मुक्त होने के लिए हम कोई उपाय नहीं करते। बस यही सारी वजहें धीरे-धीरे माइग्रेन के रुप में बदलने लगती हैं। जैसे ही आप सामान्य स्थिति से एकदम तनाव भरे माहौल में पहुंचते हैं तो सबसे पहले आपका सिर दर्द बढ़ता है।माइग्रेन को आम बोलचाल की भाषा में अधकपारी भी कहते हैं।Fun-Facts-of-Almonds-2

माइग्रेन मे लाभदायक है बादाम

माइग्रेन के रोगियों के लिए बादाम बहुत फायदेमंद होती है। रोजाना 10-12 नग बादाम का सेवन लाभकारी माना जाता है। बादाम दिमाग से संबंधित रोगों को जड़ से खत्म करता है।बादाम प्रोटीन, मैग्निशियम, पोटैशियम, जिंक, आयरन और फाइबर का भी अच्छा सोर्स है। मैग्नीशियम प्रभावी ढंग से विभिन्न माइग्रेन सक्रियताओं का मुकाबला कर सकता है क्योंकि यह रक्त शर्करा और रक्तचाप के स्तर को नियंत्रित करता है। अपने आहार में 500 मिलीग्राम मैग्नीशियम की खुराक माइग्रेन के दौरों का प्रभावी ढंग से इलाज करने में मदद कर सकती है। 20 ग्राम कच्चे बादाम में हाई क्वालिटी वाला प्रोटीन होता है, जोकि आवश्यक अमीनो एसिड्स में से तीसरा जरूरी एमीनो एसिड है। बादाम तेल से सिर की मालिश करने पर भी आराम मिलता है। वे लोग जिनके ब्लड मे पित्त अधिक हो उन्हें बादाम नहीं खाना चाहिए। माइग्रेन की अचूक दवा है योग और ध्यान। अगर योग नहीं कर सकते हैं तो व्यायाम करें। इससे आपका तनाव कम होगा। और तनाव कम होने से आपका डिप्रेशन दूर होगा।

 

Check Also

International Yoga Day:अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस कल, जानें साल 2022 की थीम

International Yoga Day:अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस कल, जानें साल 2022 की थीम

Share this on WhatsAppप्रत्येक साल 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है. इस …

Gurukpo plus app
Gurukpo plus app