Home / Youth / भारतीय मूल की 16 साल की कियारा ने जीत गूगल अवॉर्ड

भारतीय मूल की 16 साल की कियारा ने जीत गूगल अवॉर्ड

16 साल की कियारा ने संतरे और रुचिरा (एवोकैडो) फलों के छीलके से ऐसा पॉलीमर  बनाया है जो पानी सकता है । इस से मिट्टी में नमी बनी रहती है । सूखे के इस समाधान के लिए कियारा को इस साल ‘गूगल साइंस फेयर’ में 50,000 डॉलर (3.35 लाख रु.) का अवार्ड मिला है । इस प्रतियोगिता में 13-18 साल के बाल-वैज्ञानिक भाग लेते है । उन्हें दुनिया की बड़ी चुनोतियां का समाधान निकलना होता है । कियारा को भरोसा है की उनके पॉलीमर  से किसानों को काफी मदद मिलेगी  और खाद सुरक्षा 73% बढ़ जायेगी । अब वह संतरे के छीलके से बने पॉलीमर से पानी फ़िल्टर करने पर  प्रयोग कर रही है

Check Also

कारगिल विजय दिवस: पराक्रम और शौर्य की कहानी, जब शूरवीरों ने पाक को खदेड़ करगिल की चोटियों पर लहराया था तिरंगा

कारगिल विजय दिवस: पराक्रम और शौर्य की कहानी

Share this on WhatsApp26 जुलाई 1999 को भारत ने कारगिल युद्ध में विजय हासिल की …

Gurukpo plus app
Gurukpo plus app