Home / knowledge / वॉट्सऐप की नई नीति: इसे एग्री किया तो गोपनीयतासी खत्म होगी

वॉट्सऐप की नई नीति: इसे एग्री किया तो गोपनीयतासी खत्म होगी

वॉट्सऐप ने अपनी “प्राइवेसी पॉलिसी” और “टर्म्स ऑफ़ सर्विस” अपडेट कर दी हैं. बदलाव को लेकर यूजर्स को नोटिफ़िकेशन भेजे जा रहे हैं. इनको एक्सेप्ट करने के लिए लोगों के पास 8 फरवरी तक का टाइम है. वॉट्सऐप ने ये चेतावनी भी दी है कि अगर आप नई पॉलिसी को एक्सेप्ट नहीं करते हैं तो आपका अकाउंट डिलीट हो जाएगा. ये स्टैन्डर्ड प्रैक्टिस है. लेकिन इस पॉलिसी में कई ऐसी बाते हैं, जिन पर गौर करना चाहिए. आइए बताते हैं-

वॉट्सऐप के टर्म्स और प्राइवेसी पॉलिसी में क्या बदला है?

वॉट्सऐप अब फ़ेसबुक के कंट्रोल में है. और ये कंपनी अपनी सारी प्रॉपर्टीज को एकदूसरे से जोड़ने में लगी है. अभी कुछ वक़्त पहले का फ़ेसबुक मैसेंजर और इंस्टाग्राम डायरेक्ट मैसेज का आपसी विलय इसी का नतीजा है. अब वॉट्सऐप यूजर का डेटा भी फेसबुक, इंस्टाग्राम जैसे कंपनी के दूसरे प्रोडक्ट्स के साथ भी शेयर किया जाएगा. नई पॉलिसी में इस बारे में भी जानकारी है कि वॉट्सऐप कैसे यूजर के डेटा को प्रोसेस करता है, और कैसे वॉट्सऐप बिज़नेस फ़ेसबुक की सर्विसेज़ को इस्तेमाल करके अपनी चैट्स को स्टोर कर सकते हैं.

ऐसा फैसला क्यों लिया?

इस पॉलिसी को एग्री करने के बाद वॉट्सऐप अपनी 200 करोड़ से ज्यादा यूजर्स का डेटा एक्सेस कर पाएगी। यानी वो उनके डेटा को दूसरे प्लेटफॉर्म पर शेयर भी कर पाएगी। नई पॉलिसी के नोटिफिकेशन में उसने साफ लिखा है कि अब वॉट्सऐप आपकी हर सूचना अपनी पेरेंट कंपनी फेसबुक और इंस्टाग्राम के साथ शेयर करेगा। यानी वॉट्सऐप अपने यूजर्स के डेटा का इस्तेमाल करके पैसे भी कमा सकती है।

पॉलिसी का यूजर पर क्या असर होगा?

ये तय हो चुका है कि आप वॉट्सऐप चलाते हैं तब ये पॉलिसी एग्री करना होगी। यानी न चाहते हुए भी आपको अपने वॉट्सऐप की प्राइवेसी कंपनी के साथ शेयर करना होगी। यानी वॉट्सऐप अब आपके डेटा पर पूरी नजर रखेगी और आपकी प्राइवेसी पूरी तरह खत्म हो जाएगी। इस बात को ऐसे समझें…

खर्च से तय होंगे विज्ञापन:

वॉट्सऐप आपके बैंक का नाम, कितनी राशि और डिलीवरी का स्थान सभी ट्रैक करेगा। इससे फेसबुक-इंस्टाग्राम भी आपके फाइनेंशियल ट्रांजेक्शन जान जाएंगे। ट्रांजेक्शन डिटेल से कंपनी आपकी प्रोफाइलिंग करेगी। यानी आप इडली-डोसा खाते हैं तो अमीर आदमी नहीं हैं। स्टारबक्स जाते हैं तो अमीर हैं। फिर आपको महंगी गाड़ियों के विज्ञापन दिखने लगेंगे।

आईपी एड्रेस और लोकेशन ट्रेस होगी:

वॉट्सऐप ने विकल्प दिया है कि यूजर अपनी लोकेशन एक्सेस डिसेबल कर सकते हैं। हालांकि उसने यह भी कहा है कि आईपी एड्रेस और मोबाइल नंबर से अंदाजा लग जाएगा आप कब-कहां जाते हैं।

स्टेटस भी सुरक्षित नहीं:

वॉट्सऐप आपका स्टेटस भी पढ़ेगा। जोखिम यह है यदि आपने लिखा- बताओ कौन सी गाड़ी खरीदूं। तो फेसबुक-इंस्टाग्राम भी इसे पढ़ेंगे और आपको कार, बाइक के विज्ञापन दिखने लगेंगे। ठीक ऐसे ही यदि आपने लिखा- घूमने कहां जाना चाहिए। तब आपके सोशल पेज पर कई टूर से जुड़े विज्ञापन आएंगे।

कंटेंट पर सजेशन और एनालिसिस मिलेगा:

वॉट्सऐप आपको दोस्तों, ग्रुप्स, कंटेंट आदि के सजेशन भी देगा। एक तरह से वॉट्सऐप आपकी हर हरकत पर नजर रखेगा और उसका एनालिसिस करेगा। फेसबुक इसी आधार पर आपको शॉपिंग, प्रोडक्ट के विज्ञापन दिखाएगा।

कॉल पर भी होगी नजर:

कंपनी को पता होगा आप किसे कितने वॉट्सऐप कॉल करते हैं? किस ग्रुप में ज्यादा सक्रिय हैं? ब्रॉडकास्ट लिस्ट कितनी है? फोटो-वीडियो फॉरवर्ड करने पर सर्वर पर अधिक समय स्टोर रहेंगे। उसे पता होगा कौन-सा कंटेंट ज्यादा फॉरवर्ड हो रहा है। फेक न्यूज ट्रैक करने व चुनाव के समय ये जानकारी अहम होगी। बिजनेस अकाउंट से शेयर होने वाले कैटलॉग का एक्सेस भी वॉट्सऐप के पास होगा।

 

Source Link:
Dainik Bhaskar

Check Also

5 Best places to visit in Mumbai

5 Best places to visit in Mumbai

Share this on WhatsAppअंजलि तंवर 1.Gateway of India, Mumbai Gateway of India, the best place …

Gurukpo plus app
Gurukpo plus app