Home / News / उदयपुर-अहमदाबाद का सफर सिर्फ 5 घंटे में

उदयपुर-अहमदाबाद का सफर सिर्फ 5 घंटे में

तानिया शर्मा

उदयपुर, राजसमंद, चित्तौड़गढ़ समेत 6 जिलों के लोगों के लिए 31 अक्टूबर से अहमदाबाद का सफर आसान हो जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को असरवा(गुजरात) रेलवे स्टेशन से अहमदाबाद-उदयपुर ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर उदयपुर-अहमदाबाद के बीच ब्रॉडगेज ट्रैक का उद्घाटन करेंगे। आम लोगों के लिए तो यह ट्रैक फायदेमंद होगा ही, माना जा रहा है कि इस ट्रैक पर सियासी रेल भी तेज गति से दौड़ेगी।

दरअसल, उदयपुर से अहमदाबाद की रेल कनेक्टिविटी करीब 6 साल से कटी हुई है। इस रूट पर मीटर गेज(छोटी लाइन) ट्रैक था। करीब 1700 करोड़ रुपए की लागत से इसे ब्रॉडगेज ट्रैक(बड़ी लाइन) में कन्वर्ट किया गया है। यह ट्रैक करीब 290 किमी का है।

पहले लगते थे दस घंटे

मीटर गेज ट्रैक के दौरान उदयपुर से अहमदाबाद जाने में लगभग 10 घंटे का समय लगता था। उदयपुर से अहमदाबाद के बीच ब्रॉडगेज ट्रैक पर ट्रेन शुरू होने के बाद 5 घंटे में अहमदाबाद से उदयपुर पहुंचा जा सकेगा। हालांकि, सड़क के रास्ते 5 घंटे में ही अहमदाबाद पहुंचा जा सकता है।

जयपुर से अहमदाबाद वाया उदयपुर कनेक्टिविटी

जयपुर-अहमदाबाद ट्रेन सुपरफास्ट ट्रेन होगी। लगभग 13 घंटे में अहमदाबाद से जयपुर आया-जाया जा सकेगा। यह ट्रेन रोजाना चलगी। अभी जयपुर से अहमदाबाद जाने वाली ट्रेन अजमेर, ब्यावर, मारवाड़, आबूरोड होते हुए जाती है। ऐसे में जयपुर के लोगों को एक अतिरिक्त विकल्प मिलेगा, साथ ही भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, राजसमंद, उदयपुर, डूंगरपुर जिलों से अहमदाबाद सीधा कनेक्ट हो जाएगा।

उदयपुर से कटारिया रवाना करेंगे ट्रेन

अहमदाबाद के असरवा रेलवे स्टेशन पर प्रधानमंत्री मोदी के साथ रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव भी मौजूद रहेंगे। ठीक उसी समय राजस्थान में उदयपुर रेलवे स्टेशन से राजस्थान के नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया और चित्तौड़गढ़ सांसद सीपी जोशी दूसरी ट्रेन को उदयपुर से हरी झंडी देकर अहमदाबाद के लिए रवाना करेंगे।

इसके साथ ही दोनों शहरों के बीच के हर स्टेशन पर स्वागत के लिए विधायक और सांसद मौजूद रहेंगे। उमरड़ा स्टेशन पर उदयपुर ग्रामीण विधायक फूलसिंह मीणा मौजूद रहेंगे। इसके बाद जावर माइंस स्टेशन पर उदयपुर सांसद अर्जुन मीणा, जयसमंद स्टेशन पर सलूम्बर विधायक अमृतलाल मीणा, डूंगरपुर स्टेशन पर बांसवाड़ा-डूंगरपुर सांसद कनकमल कटारा मौजूद रहेंगे। इसके बाद ट्रेन गुजरात में प्रवेश कर जाएगी। ठीक इसी तरह गुजरात के भी कई विधायक-सांसद वहां के प्रमुख स्टेशन पर ट्रेन के स्वागत के लिए मौजूद रहेंगे।

अहमदाबाद से सबसे ज्यादा टूरिस्ट आते हैं उदयपुर

अहमदाबाद से सबसे ज्यादा पर्यटक उदयपुर आते हैं। अब तक ये टूरिस्ट या तो अपनी गाड़ियों से या बसों के सहारे उदयपुर पहुंचता था। बड़ी संख्या में पर्यटक लगभग हर वीकेंड पर उदयपुर पहुंचते हैं। व्यापारी वर्ग गुजरात और दक्षिणी राजस्थान में बीजेपी का वोट बैंक रहा है। ट्रैवल्स बसों की मनमानी के चलते व्यापारी वर्ग परेशान था। ऐसे में दोनों ही राज्यों के व्यापारी वर्ग को बीजेपी ने साधने की कोशिश की है।

Check Also

14 साल बाद सबसे गर्म नवंबर

14 साल बाद सबसे गर्म नवंबर

Share this on WhatsAppतानिया शर्मा ठंड की दस्तक के बाद भी देश के कई हिस्सों …

Gurukpo plus app
Gurukpo plus app