Home / Creativity / Safer Internet Day 2022: नोट कर लें गूगल की ये बातें कभी नहीं होंगे फ्रॉड के शिकार

Safer Internet Day 2022: नोट कर लें गूगल की ये बातें कभी नहीं होंगे फ्रॉड के शिकार

आज इंटरनेट हर किसी के लिए अहम जरूरत बन गया है। किसी की जानकारी को हासिल करना हो या फिर रुपए के ट्रांसफर सब जगह इंटरनेट का इस्तेमाल होता है। सुरक्षित इंटरनेट दिवस (Safer Internet Day) प्रत्येक वर्ष फ़रवरी माह के दूसरे सप्ताह के दूसरे दिन मनाया जाता है। वर्ष 2022 में यह दिवस 8 फ़रवरी को मनाया जा रहा है। अंतर्राष्ट्रीय सुरक्षित इंटरनेट दिवस मनाने के पीछे प्रमुख कारण बच्चों और युवा लोगों को मोबाइल फ़ोन और ऑनलाइन के सुरक्षित व अधिक जिम्मेदार उपयोग के लिए प्रोत्साहित करना है।

इसका उद्देश्य एक सुरक्षित और बेहतरीन इन्टरनेट प्रदान करना, जहां हर उपयोगकर्ता से और डेटा लीक के जोखिम के बिना इंटरनेट का उपयोग करने में सक्षम हो। हर वर्ष सुरक्षित इंटरनेट दिवस (Safer Internet Day) की एक थीम रखी जाती हैं और इस साल सेफर इंटरनेट डे ‘ऑल फन एंड गेम्स’ थीम के साथ मनाया जाएगा।

वहीं इंटरनेट के बढ़ते चलन के साथ ही इसके दुरुपयोग के मामलों में भी काफी इजाफा देखा गया है साथ ही साइबर अपराध के मामले भी बढ़े हैं। सेफर इंटरनेट डे के दिन लोगों को इंटरनेट के सुरक्षित इस्तेमाल के लिए प्रेरित किया जाता है।

मजबूत पासवर्ड और टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन
एक मजबूत पासवर्ड रखना जरूरी है और अलग-अलग प्लेटफॉर्म पर आपके पासवर्ड एक जैसे नहीं होने चाहिए। ट्विटर, फेसबुक और गूगल जैसे कंपनियां अकाउंट कीह अतिरिक्त रूप से सुरक्षित रखने के लिए टू फैक्टर आथेंटिकेशन (दो कारक प्रमाणीकरण) की सुविधा देती हैं। तो आपके लिए बेहतर है कि आप टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन का इस्तेमाल करें। कई बार हमे पासवर्ड रीसेट करना पड़ता है। ऐसे में पासवर्ड मैनेजर की मदद ले। पासवर्ड मैनेजर मजूबत पासवर्ड बनाने के अलावा पासवर्ड को याद रखने में भी आपकी मदद करता है।

खाते की सुरक्षा को करे मजबूत
यह सुनिश्चित करें कि आपका मोबाइल नंबर या ईमेल एड्रेस आपके अकाउंट से लिंक हो। यह इसलिए क्योंकि किसी संदिग्ध गतिविधि में आपके मोबाइल नंबर पर आपको अलर्ट मिलेगा। ऐसे में जीमेल या किसी अन्य अकाउंट में मोबाइल नंबर जरूर जोड़ें।

स्पैम, घोटालों और फिशिंग से सावधान रहें
आप इस बात का ध्यान रखें कि आप कहां हैं। जो भी लिंक आपके पास हो उसकी जांच करें, वेबसाइटों पर पॉप-अप्स से सावधान रहें। यदि आप कुछ ऑनलाइन यह देखते हैं कि आापने कुछ जीता है, और ऐसा लगता है कि यह सत्य है, लेकिन काश ऐसा होता। फिशिंग स्कैमर बड़ी संख्या में लोगों को जालसाजी वाले मैसेज भेजते हैं ताकि उनकी निजी जानकरी जैसे पासवर्ड आदि हासिल कर सकें।

कूकीज पर नजर
आप अपने डाटा को सुरक्षित रखना चाहते है, तो आपको ब्राउजिंग कूकीज पर नजर बनाए रखनी होगी। क्योंकि ये कूकीज ही अन्य साइट्स को आपकी जानकारी देती हैं। प्राइवेसी टूल आपकी कूकीज पर पूरी तरह से नजर बनाए रखता है। इसके अलावा आप ब्राउजर के सिक्योरिटी फीचर्स का भी उपयोग कर सकते हैं। इससे आपका डाटा कभी लीक या चोरी नहीं होगा।

सॉफ्टवेयर करें अपडेट
अक्सर मोबाइल या लैपटॉप के सॉफ्टवेयर अपडेट करने के लिए नोटिफिकेशन जारी होते हैं जिन्हें हम अनदेखा कर देते हैं। इसलिए जरूरी है कि इन्हें समय-समय पर अपडेट करते रहें। एप्स, ब्राउजर और अन्य सभी सॉफ्टवेयर को अपडेट रखना महत्वपूर्ण है। इनको अनदेखा या देरी करने से आप नए वायरस के हमलों और अन्य ऑनलाइन खतरों की चपेट में आ जाते हैं।

Check Also

5 दिवसीय 17वीं बियानी इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस का शुभारम्भ

Share this on WhatsAppबियानी गु्रप ऑफ कॉलेजेज कि ओर से 5 दिवसीय 17वीं बियानी इंटरनेशनल …

Gurukpo plus app
Gurukpo plus app