Home / Health / ओपन सोर्स होने वाला दुनिया का पहला सरकारी एप बना आरोग्य सेतु

ओपन सोर्स होने वाला दुनिया का पहला सरकारी एप बना आरोग्य सेतु

आरोग्य सेतु एप की प्राइवेसी को लेकर सरकार ने आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया था जिसमें सरकार ने बड़ा एलान करते हुए आरोग्य सेतु एप के एंड्रॉयड वर्जन को ओपन सोर्स कर दिया है। बता दें कि आरोग्सय सेतु एप के 90 फीसदी यूजर्स एंड्रॉयड यूजर्स हैं।सरकार ने यह भी कहा है कि आज यानी 26 मई की आधी रात के बाद एप का सोर्स कोड उपलब्ध करा दिया जाएगा। ओपन सोर्स होने का मतलब है कि दुनिया का कोई भी डेवलपर्स यह जान सकता है कि आरोग्य सेतु में कौन-कौन सी जानकारी स्टोर हो रही है और एप आपके फोन में क्या कर रहा है।
सरकार की ओर से कहा गया कि आरोग्य सेतु दुनिया का पहला सरकारी सॉफ्टवेयर या एप है जिसे ओपन सोर्स किया गया है। प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह भी बताया गया कि आरोग्य सेतु एप ने तीन हजार कोरोना हॉटस्पॉट्स के बारे में 3-17 दिन पहले पता लगाया।बचा दें कि फ्रांस के सिक्योरिटी एक्सपर्ट और एथिकल हैकर इलियट एंडरसन ने पिछले महीने ट्वीट करके आरोग्य सेतु एप की प्राइवेसी को लेकर सवाल खड़ा किया था। उन्होंने दावा किया था कि आरोग्य सेतु एप इस्तेमाल करने वालों का डाटा खतरे में है।

Check Also

जानें क्या है मंकी पॉक्स, लक्षण व बचाव

मंकीपाक्स के क्या हैं लक्षण और कैसे फैलता है संक्रमण, ऐसे करे बचाव

Share this on WhatsAppक्या है मंकी पॉक्स ? मंकी पॉक्स एक वायरल डिजीज है। ये …

Gurukpo plus app
Gurukpo plus app