Home / Editorial / सियासी संकट के बीच सरकार को घेरेगी BJP

सियासी संकट के बीच सरकार को घेरेगी BJP

तानिया शर्मा

सियासी संकट के बीच बीजेपी राजस्थान में कांग्रेस को घेरने की तैयारी कर रही है। राजस्थान में अगले महीने सरकार के 4 साल पूरे हो रहे हैं। ऐसे में बीजेपी सरकार की चौथी सालगिरह के मौके पर कांग्रेस को पूरी तरह से घेरने के मूड में है। इसके लिए बीजेपी ने कांग्रेस की वर्तमान सरकार को आजादी के बाद की राजस्थान की सबसे कमजोर सरकार के रूप में प्रोजेक्ट करने की तैयारी कर ली है।

सरकार के 4 साल पर कांग्रेस को घेरने के लिए बीजेपी का पूरा प्लान तैयार है। यह प्लान अगली कोर कमेटी की बैठक में मंजूर हो जाएगा। राजस्थान में बीजेपी की अगली कार्यसमिति की बैठक संभवत: 13 नवम्बर को झुंझूनु में होगी। इससे पहले कोर कमेटी की पिछली बैठक 21 अक्टूबर को दिल्ली में हुई थी। इस बैठक में बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्‌डा और गृहमंत्री अमित शाह भी शामिल हुए थे।

13 नवम्बर की कोर कमेटी की बैठक में पूर्व सीएम वसुंधरा राजे सहित प्रदेश बीजेपी के तमाम महत्वपूर्ण नेताओं के शामिल होने की संभावना है। बीजेपी ने सरकार के 4 साल के मौके पर कांग्रेस को घेरने के लिए प्लान तैयार कर लिया है। इसके तहत बीजेपी हर मंडल से लेकर प्रदेश स्तर तक कांग्रेस को घेरने की तैयारी में है। 13 नवम्बर को मंजूरी मिलने के बाद संभावना है कि 15 नवम्बर से यह प्रोटेस्ट शुरू हो जाए।

प्रभारी तय किए, जयपुर में 1 लाख लोगों की बड़ी रैली का प्लान

सरकार के 4 साल होने पर उसे घेरने के लिए बीजेपी ने मंडल स्तर से विधानसभा स्तर तक प्रभारी लगा दिए हैं। प्रदेश की सभी 200 विधानसभाओं में यह विरोध प्रदर्शन किया जाएगा। इसके बाद 16 दिसम्बर के आसपास जयपुर में बड़ी रैली बीजेपी करेगी। इसमें प्रदेशभर से 1 लाख लोगों काे शामिल कराने की बीजेपी की योजना है। इस रैली में केंद्र से बीजेपी के प्रमुख नेता भी शामिल हो सकते हैं।

सियासी अस्थिरता और अपराध सबसे अहम मुद्दे

सरकार के 4 साल को लेकर बीजेपी कई मुद्दों पर कांग्रेस को घेरेगी। मगर इनमें सियासी अस्थिरता और बढ़ते अपराध सबसे अहम होंगे। बीजेपी नेताओं का कहना है कि पिछले चार साल में जितने दुष्कर्म के मामलों सहित जघन्य अपराध की घटनाएं सामने आई हैं। उतनी कभी नहीं आई। ऐसे में बीजेपी इसे वर्तमान सरकार के सबसे बड़े फेल्योर के रूप में पेश करेगी। इसी तरह वर्तमान सरकार में लगातार बन रहे अस्थिरता के माहौल को भी बीजेपी पूरी तरह भुनाने की तैयारी में है।

Check Also

मोदी ने मानगढ़ को राष्ट्रीय स्मारक घोषित नहीं किया

मोदी ने मानगढ़ को राष्ट्रीय स्मारक घोषित नहीं किया

Share this on WhatsAppतानिया शर्मा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दस साल बाद करीब 1500 आदिवासियों की …

Gurukpo plus app
Gurukpo plus app