Home / News / India / क्रेडिट डेबिट कार्ड यूजर्स के लिए अलर्ट

क्रेडिट डेबिट कार्ड यूजर्स के लिए अलर्ट

तानिया शर्मा

1 अक्टूबर से डेबिट और क्रेडिट कार्ड के ऑनलाइन पेमेंट के नियम बदल जाएंगे. भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने इस साल 30 सितंबर तक ऑनलाइन, पॉइंट-ऑफ-सेल और इन-ऐप लेनदेन में उपयोग किए जाने वाले सभी क्रेडिट और डेबिट कार्ड डेटा को टोकन के साथ बदलना अनिवार्य कर दिया है. इससे पहले समय सीमा जुलाई से शुरू होने वाले तीन महीने के लिए बढ़ा दी गई थी. टोकन के जरिए से डेबिट और क्रेडिट पेमेंट करना ज्यादा सुरक्षित होगा. इससे डिजिटल भुगतान भी बढ़ने की उम्मीद है.

1 अक्टूबर से डेबिट और क्रेडिट कार्ड के ऑनलाइन पेमेंट के नियम बदल जाएंगे. भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने इस साल 30 सितंबर तक ऑनलाइन, पॉइंट-ऑफ-सेल और इन-ऐप लेनदेन में उपयोग किए जाने वाले सभी क्रेडिट और डेबिट कार्ड डेटा को टोकन के साथ बदलना अनिवार्य कर दिया है. इससे पहले समय सीमा जुलाई से शुरू होने वाले तीन महीने के लिए बढ़ा दी गई थी. टोकन के जरिए से डेबिट और क्रेडिट पेमेंट करना ज्यादा सुरक्षित होगा. इससे डिजिटल भुगतान भी बढ़ने की उम्मीद है.

अब देगी होगी कार्ड की पूरी जानकारी

नया नियम लागू होने के बाद ग्राहक को ऑनलाइन खरीदारी करते समय अपने कार्ड की पूरी जानकारी देगी देनी होगी. एक बार जब ग्राहक किसी वस्तु को खरीदना शुरू कर देते हैं, तो व्यापारी टोकनाइजेशन शुरू कर देगा और कार्ड को टोकन करने के लिए सहमति मांगेगा. एक बार सहमति दिए जाने के बाद मर्चेंट कार्ड नेटवर्क को अनुरोध भेज देगा. इसस हर कार्ड के लिए एक टोकन नंबर जनरेट हो जाएगा. जिसे भविष्य में खरीदारी के लिए ऑनलाइन या मर्चेंट प्लेटफॉर्म पर सेव किया जा सकता है.

1. प्रॉडक्ट खरीदने के लिए किसी ई-कॉमर्स वेबसाइट पर जाएं.
2. पेमेंट प्रोसेस के रूप में पसंदीदा कार्ड विकल्प चुनें.
3. सभी जरूरी जानकारी सावधानी से दर्ज करें.
4. वेबसाइट पर ‘RBI के दिशानिर्देशों के अनुसार अपने कार्ड को सुरक्षित करने’ के विकल्प पर टैप करें और इसे RBI के दिशानिर्देशों के अनुसार स्टोर करें.
5. आपको वन-टाइम पासवर्ड (OTP) प्राप्त होगा.
6. बैंक पेज पर ओटीपी दर्ज करें और कार्ड विवरण टोकन जनरेशन और लेनदेन प्राधिकरण के लिए भेजा जाएगा.
7. टोकन व्यापारी को भेजा जाएगा और वह व्यक्तिगत कार्ड के विवरण के स्थान पर इसे सेव कर लिया जाएगा.
8. अगली बार जब आप उसी ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म या मर्चेंट वेबसाइट पर जाएंगे, तो सेव किए गए कार्ड के अंतिम चार नंबर दिखेंगे. इससे पता चलेगा कि डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड को टोकन किया गया है.

Check Also

लगातार चौथी बार कॉमर्शियल सिलेण्डर सस्ता

लगातार चौथी बार कॉमर्शियल सिलेण्डर सस्ता

Share this on WhatsAppतानिया शर्मा तेल-गैस कंपनियों ने आज गैस की कीमतों में रिव्यू करते …

Gurukpo plus app
Gurukpo plus app