Home / News / India / अनुच्छेद 370 हटाए जाने की दूसरी वर्षगांठ

अनुच्छेद 370 हटाए जाने की दूसरी वर्षगांठ

तानिया शर्मा

जम्मू और कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए 5 अगस्‍त 2021 को पूरे दो वर्ष हो चुके है। बुधवार को दूसरी वर्षगांठ पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार ने कहा कि अनुच्छेद 370 को निरस्त करने के बाद से जम्मू और कश्मीर में अत्‍यधिक शांत और प्रगति हुई है। पीएम मोदी ने कहा कि दो साल पहले इस दिन एक नए जम्मू और कश्मीर की दिशा में पहला बड़ा कदम उठाया गया था।

जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370

बता दें जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले और तत्कालीन राज्य को 2 केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित करने वाले अनुच्छेद 370 के निरस्त कर दिया था। भारत सरकार ने पांच अगस्त 2019 को अनुच्छेद 370 के अंतर्गत जम्मू और कश्मीर के विशेष दर्जे को समाप्त कर दिया था। पीएम मोदी ने दोहराया कि अनुच्छेद 370 को निरस्त करने से जम्मू-कश्मीर में अभूतपूर्व प्रगति हुई, शांति मिली है और तेजी से प्रगति हो रही है।प्रधानमंत्री ने कहा आज से ठीक दो साल पहल नए जम्मू-कश्मीर की दिशा में हमारी सरकार ने पहला बड़ा कदम उठाया गया था। जिसकी बदौलत आज शांति और अमन है।

नरेंद्र मोदी आधिकारिक अकाउंट पर किया ट्वीट

नरेंद्र मोदी की निजी वेबसाइट के आधिकारिक अकाउंट को ट्वीट किया गया, ‘ एक ऐतिहासिक दिन। दो साल पहले #NewJammuKashmir की दिशा में पहला बड़ा कदम उठाया गया था। तब से इस क्षेत्र में अभूतपूर्व शांति और प्रगति हुई है।’ ट्वीट में आगे बताया गया है कि धारा 370 पर सूचनात्मक सामग्री, ग्राफिक्स और बहुत कुछ जानने के लिए नमो ऐप पर अपने वॉयस सेक्शन पर जाएं।

केंद्र ने अगस्त 2019 में अनुच्छेद 370 को निरस्त कर दिया था और जम्मू-कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित कर दिया था।

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने भी अनुच्छेद 370 हटाए जाने की दूसरी वर्षगांठ पर कहा

अनुच्छेद 370 और 35ए निष्प्रभावी होने के बाद केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा था, ‘अब हमारा देश शांति और विकास के पथ पर आगे बढ़ सकता है.’ उन्होंने कहा कि इस कदम से आतंकवाद के प्रति जीरो टॉलरेंस की नीति और सशक्त होगी. शाह ने विश्वास जताया कि जम्मू एवं कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 को खत्म करने से राज्य में स्थायी शांति स्थापित होगी. शाह ने कहा, ‘हम अनुच्छेद 370 को खत्म किए जाने के बाद अभेद्य कवच में सुरक्षित हैं. इस अनुच्छेद को खत्म करने की पहल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू एवं कश्मीर में शांति स्थापित करने और हमारे सुरक्षाकर्मियों को सक्षम बनाने के उद्देश्य से की है.’

Check Also

14 साल बाद सबसे गर्म नवंबर

14 साल बाद सबसे गर्म नवंबर

Share this on WhatsAppतानिया शर्मा ठंड की दस्तक के बाद भी देश के कई हिस्सों …

Gurukpo plus app
Gurukpo plus app