Home / News / अम्बेडकर जयंती की पूर्व संध्या पर संवैधानिक नैतिकता विषय पर सेमिनार का आयोजन

अम्बेडकर जयंती की पूर्व संध्या पर संवैधानिक नैतिकता विषय पर सेमिनार का आयोजन

जयपुर, 13 अप्रैल । राजीव गाँधी स्टडी सर्किल और बियानी लॉ कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में बुधवार को अम्बेडकर जयंती की पूर्व संध्या पर संवैधानिक नैतिकता विषय पर सेमिनार का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री टीकाराम जूली रहे। इसके अलावा कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में राजीव गांधी स्टडी सर्किल के नेशनल कॉर्डिनेटर प्रो. सतीश राय, विशिष्ट अतिथि के रूप में एडिशनल एडवोकेट जनरल, राजेश महर्षि, और वक्ता के रूप में एडवोकेट सूर्यप्रताप सिंह ने शिरकत की। कार्यक्रम की शुरुआत माँ सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्जवलन कर की गई। टीकाराम जूली जी ने इस अवसर पर कहा कि इस तरह के सेमिनार की आज के समय में बहुत जरूरत है। हमें जो भी अधिकार मिले हैं, वे हमें संविधान से ही मिले हैं और हमारे संविधान की सबसे बड़ी ताकत इन अधिकारों का आम व खास के लिये एक समान होना है ।
बियानी ग्रुप ऑफ़ कॉलेजेज के डायरेक्टर डॉ. संजय बियानी ने इस अवसर पर कहा कि संविधान की समझ आज की सबसे बडी जरूरत है। हर भारतीय की आजीविका, उसका कर्म, उसका धर्म संविधान पर आधारित है। उन्होंने कहा कि लॉ के हर विधार्थी की टेबल पर संविधान की पुस्तक हमेशा होनी चाहिए।
इसी के साथ प्रो. सतीश राय ने छात्राओं को मौलिक अधिकारों के बारे में बताया और कहा कि हमारा संविधान बहुत मजबूत है। हमें अपने अधिकारों के साथ-साथ अपने कर्तव्यों का भी ध्यान रखना चाहिए।
इस अवसर मूल हस्तलिखित संविधान की प्रदर्शनी का भी आयोजन किया गया और सभी ने संविधान की प्रस्तावना की शपथ ली। कार्यक्रम के अंत में राजीव गाँधी स्टडी सर्किल के सह-समन्यवक डॉ. ध्यान सिंह गोठवाल ने सभी के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया।

Check Also

14 साल बाद सबसे गर्म नवंबर

14 साल बाद सबसे गर्म नवंबर

Share this on WhatsAppतानिया शर्मा ठंड की दस्तक के बाद भी देश के कई हिस्सों …

Gurukpo plus app
Gurukpo plus app