Home / Bhakti / अधिक मास ……….कुछ त्यौहार पहले तो कुछ का लंबा इंतजार

अधिक मास ……….कुछ त्यौहार पहले तो कुछ का लंबा इंतजार

नववर्ष 2018 की जहां पंच योग से शुरूआत हो रही है, वही 15 मई से पहले हिंदू तीज पर्व 10 दिन पहले मनाए जाएंगे। वही इसके बाद के पर्व 20 दिन से महीने बाद मनाए जाएंगे। ऐसा 18 साल बाद 15 मई के बाद पड़ने वाले अधिमास की वजह से होगा। पंडितों के अनुसार त्यौहारों के बदले इस गणित के अनुसार कुछ त्यौहार पहले और कुछ के लिए लंबा इंतजार करना पड़ेगा। इन्हीं में से प्रमुख दीपावली पर्व आता है। जो इस बार 19 दिन की देरी से मनाई जाएगी। मई के बाद पड़ने वाले दूसरे त्यौहारो में भी ऐसा ही अंतर दिखेगा। 15 मई से पहले मनाए जाने वाले त्यौहार अमावस्या स्नान, बसंत पंचमी, माघी पूर्णिमा, महाशिवरात्री, होली, चैत्र नवरात्र, आदि त्यौहार बीते साल के मुकाबले 10 पहले मनाए जाएंगे। नववर्ष पर महाशिवरात्री 13 फरवरी और होली एक मार्च को मनाई जाएगी। जबकि 2017 में महाशिवरात्री 24 फरवरी और होली 13 मार्च को आई थी।
16 मई से 13 जून तक रहेगा अधिमास
पहले अधिमास साल 2001 और 2018 के बाद 2036 में पड़ेगा। 2018 में ज्येष्ठ मास अधिमास होगा। इसलिए दो ज्येष्ठ मास रहेंगे। अधिमास 18 मई से 13 जून तक रहेगा। इस अवधि में मांगलिक काम नहीं होंगे।

Check Also

Do You know about the demise of Lord Krishna and Pandavas?

Shri Krishna ruled over Dwarka for thirty-six years. The family of the Yadavas of Dwarka …

Apply Online
Admissions open biyani girls college