Sunday , February 18 2018
Home / Health / स्वस्थ जीवन के लिए लीवर रखें हैल्दी

स्वस्थ जीवन के लिए लीवर रखें हैल्दी

लीवर हमारे शरीर का बेहद महत्वपूर्र्ण अंग है। लीवर में पाचक रस बनने के साथ विटामिन्स का भंडारण होता है। लीवर न केवल रक्त को शुद्ध बनाता है बल्कि हार्माेन्स को भी नियमित रखता है। लीवर शुगर,वसा, कोलेस्ट्रॉल के उत्पादन,स्टोरेज व उत्सर्जन को नियमित और नियंत्रित करके पाचन और मेटाबॉल्ज्मि प्रक्रिया में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। अत्यधिक प्रदूषण, खराब भोजन और पानी की वजह से लीवर में विषाक्त तत्व एकत्रित होकर लीवर पर भार बढ़ाते हैं। लीवर पर अत्यधिक भार बढऩे के कारण शरीर में ऑक्सीजन की आपूर्ति में कमी आती है। इस परिस्थिति में लीवर को डिटॉक्स करना जरूरी होता है। इसलिए अगर आपको आपकी बॉडी में निम्नलिखित परिवर्तन दिखें तो तुरन्त चिकित्सकीय परामर्श लेना चाहिए।
1. अत्यधिक नमक खाना भी लीवर के लिए खतरनाक सिद्ध हो सकता है। अगर लीवर ठीक से काम नहीं करता है तो कब्ज,सीने में जलन,एसिडिटी और डायरिया आदि तरह की समस्याएं शुरू हो जाती हैं। इसलिए अगर आप पाचन संबंधी किसी समस्या से पीडि़त हैं तो आपको अधिक सचेत रहने की जरूरत है।
2. शरीर और सांसों से बदबू आना तथा अत्यधिक मात्रा में पसीना आना भी लीवर की खराबी का संकेत हो सकता है। शरीर में ज्यादा मात्रा में टॉक्सिन इकठ्ठे हो जाने से जीभ पर सफेदी आ जाती है।
3. शरीर में बनने वाले विषाक्त तत्व आपकी मनोस्थिति को भी प्रभावित कर सकते हैं। इस तरह गुस्सा करना,बेचैनी महसूस होना इसके संकेत हो सकते हैं।
लीवर को ऐसे करें डिटॉक्स
1. एल्कोहल का सेवन पूरी तरह से बंद करें।
2. नियमित शारीरिक मेहनत जैसे व्यायाम,योग आदि करें।
3. एंटी ऑक्सीडेंट्स से भरपूर फल व सब्जियों को नियमित रूप से अपने भोजन में शामिल करें। आप साबुत अनाज, हेल्दी सीड्स, नट्स और प्रोटीन का सेवन अधिक से अधिक मात्रा में करें।
4. लीवर संबंधी किसी भी प्रकार की परेशानी होने पर तुरन्त प्रभाव से चिकित्सक का परामर्श लें।

Check Also

होम्योपैथी : नई सोच, नई दिशाएं

साबूदाने जैसी दिखने वाली होम्योपैथी की गोलियों से क्या होगा? एलोपैथी ही ठीक, ऐसा सोचना …