Monday , June 18 2018
Home / Uncategorized / ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में 4 अप्रैल से शुरू हो रहा है 21वा कामनवेल्थ गेम्स

ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में 4 अप्रैल से शुरू हो रहा है 21वा कामनवेल्थ गेम्स

ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट शहर में 4 अप्रैल से 21वे कॉमनवेल्थ गेम्स की शुरुआत हो रही है. इसमें भारत सहित कॉमनवेल्थ के 53 देशों की 71 टीम हिस्सा ले रही है. भारत से 218 सदस्यों का दल हिस्सा ले रहा है.  दुनियाभर में जितने भी मल्टी स्पोर्ट्स नेशनलइवेंट होते है उन सभी भारत का प्रदर्शन कॉमनवेल्थ गेम्स में सबसे अच्छा रहता है. कॉमनवेल्थगेम्स में मानव आबादी वाले सभी महाद्वीपों के देश हिस्सा लेते है. ये धरती के 20 प्रतिशत भूभाग और 33 प्रतिशत आबादी का प्रतिनिधित्व करते है.

आइये जानते है की कॉमनवेल्थ है क्या- कॉमनवेल्थ ब्रिटिश साम्राज्य का हिस्सा रहे देशों का इंटरगवर्मेंट ऑर्गनाइजेशन है. जिसमे 53 सदस्य देश है. 28 अप्रैल १९४९ को लन्दन डिक्लेरेशन के जरिये कामनवेल्थ का गठन किया गया.

भारत का कामनवेल्थ में रहने से फायदा-

  1. ब्रिटेन में 6 महीने से ज्यादा रहने वाले भारतियों को वह वोट देने का अधिकार है. ब्रिटिश नागरिक बनना ज़रूरी नहीं है.
  2. भारत का कोई भी नागरिक किसी ऐसे देश में ब्रिटिश दूतावास की मदद ले सकता है जहा भारतीय दूतावास नहीं है.

भारत 16 बार कामनवेल्थगेम्स में हिस्सा ले चूका है पर पिछले 3 बार के  खेलों में अपने 50% मैडल जीत चुका है. इस बार 218 खिलाडियों का दल 17 खेलों में शामिल होगा. 2010 में भारत ने पहली बार कामनवेल्थ गेम्स की मेजबानी की. तब से यह लोकप्रियता के मामले में एशियन गेम्स से आगे निकल गया. भारत ने इस खेल में 101 मैडल जीते और मैडल तालिका में दूसरा स्थान हासिल किया. ऑस्ट्रेलिया में 12 दिन तक चलने वाले इस बार के कॉमनवेल्थ गेम्स में 19 खेल 275 इवेंट आयोजित किये जायेंगे. कामनवेल्थ खेलों के लिए ऑस्ट्रेलिया के क्वींसलैंड में खेल गाँव बसाया गया है. 29 हेक्टेयर में बने खेल गाँव में ६६०० एथलीट्स रुकेंगे. ३६०० करोड़ रूपये की लागत से बने खेल गाँव में 1500 लोगों को रोज़गार भी दिया गया है. यहाँ 1 लाख से ज्यादा पेड़ लगाये गये है.

Check Also

मेट्रो स्टेशन पर विदेशी कलाकारों ने बनायीं पेंटिंग, दिया स्वच्छता का सन्देश

जयपुर मेट्रो जहाँ एक और जयपुर वासियों के आवागमन को सुलभ बना रही है वहीँ …

Apply Online
Admissions open biyani girls college